चाचा-भतीजा हुए एक | विरोधी पार्टियों में हड़कंप

चाचा-भतीजा हुए एक | विरोधी पार्टियों में हड़कंप

चाचा-भतीजा हुए एक | विरोधी पार्टियों में हड़कंप

दीपावली पर सपा मुखिया ने किया ऐलान

file image


समाज-वादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने दीपा-वली के दिन प्रेस-कॉन्फ्रेंस कर-बड़ा ऐलान-किया है। उन्होंने-कहा कि समाज-वादी पार्टी 2022 के उत्तर प्रदेश विधान-सभा चुनाव में जसवंत-नगर की सीट प्रगतिशील समाज समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव के लिए छोड़ देगी।

राज्य में सपा सरकार बनी तो चाचा शिवपाल को कैबिनेट मंत्री बनाया जाएगा। इस सवाल-पर कि क्या वह-अपने चाचा शिव-पाल यादव-की पार्टी से भी गठ-बंधन कर सकते-हैं सपा-अध्यक्ष ने कहा उस पार्टी को भी एड-जेस्ट करेंगे जसवंत-नगर चाचा की सीट है। समाज-वादी पार्टी ने वह सीट अपने चाचा के लिए छोड़ दी है।

और आने वाले समय में उनके लोग मिलें सर-कार बनाएं हम उनके नेता को कैबि-नेट मंत्री भी बना देंगे और क्या एड-जेस्टमेंट चाहिए। गौरत-लब है कि पूर्व में शिव-पाल यादव भी  समाज-वादी पार्टी से गठ-बंधन की इच्छा जता चुके हैं। वर्ष 2017 के विधान-सभा चुनाव से ठीक पहले अखि-लेश और शिव-पाल के बीच तल्खी बहुत बढ़ गई थी।

शिव-पाल ने बाद में सपा से अलग होकर प्रगति-शील समाज-वादी पार्टी का गठन किया था।  अखि-लेश के इस एलान को शिव-पाल सिंह यादव की ओर से पूर्व में सपा से गठजोड़ की संभा-वना ऊपर दिए गए बयानों के जवाब के तौर पर देखा जा रहा है।

पिछले चुनावों में पहले कांग्रेस फिर बसपा से गठ-बंधन का सफल प्रयोग कर चुके अखि-लेश यादव ने साफ कर दिया कि अब यूपी में सपा किसी अन्य बड़े दल से कोई गठबंधन नहीं करेगी।  इस-की जगह छोटे दलों से गठ-जोड़ किया जाएगा।

Article Top Ads

Article Center Ads 1

Ad Center Article 2

Ads Under Articles